Welcome back to My Blog Pradeeptomar.com : Advantages of Blogging
Advertisements
Advertisements

ब्लॉग पर की Visitors संख्या कैसे बढ़ाये ? (How to Increase Blog Traffic ?)

How to Increase Blog Traffic in Simple Tips in Hindi.


अगर आपने कोई ब्लॉग बनाया है, और ज्यादा Visitors नहीं आ रहे ब्लॉग पर, तो लगता है की जो भी इतनी मेहनत से लिख कर आप डालते है और उसे कोई जानने वाला नहीं है या पड़ने वाला नहीं है. तो समझ जाओ की आप किसी को बता ही नहीं पा रहे हो की आपका कोई ब्लॉग है, आप कुछ जानते भी है और उसे आप अपने अनुभव को मिला कर बताना चाहते है.
यहाँ में आपको कुछ तरीके या ट्रिक्स बताना  चाहता हु. मुझे विस्वाश है की अगर आप नीचे दिए गए किसी भी तरीके पर काम करेंगे तो उसका असर १५ दिन में देख सकते हो. पहले हर दिन कितने लोग आते थे आपके ब्लॉग पर और आज कितने है.

हमेशा  कुछ नया लिखे ( Write Fresh Contents) :
नया लिखने से मतलब है की जो कंटेंट पहले से ही इंटरनेट पर उप्लब्ध् है उससे थोड़ा परहेज़ करे क्युकी फिर लोगो को लगता है की वहा से नक़ल कर ली होगी, नया लिखने के लिए आपके दिमाग में जो भी विषय उसके बारे में इंटरनेट पर खोज करे.
किसी भी विषय के बारे में लिखने के लिए आपके ब्लॉग का नाम भी ऐसा होना चाहिए जो सरे विषयो की पोस्ट को रखने में अच्छा लगे, मान लो आपके ब्लॉग का नाम है dthnews.com और आप पोस्ट लिख रहे है उस पर की अपनी कार कैसे ठीक करे या रखे ... तो ये visitors को कंफ्यूज करता है . पोस्ट लिखने में किसी भी तरह का confusion या भ्रमित न करे. अपनी पोस्ट सिर्फ और सिर्फ अपने शब्दों में लिखे इससे आपको भी पता होगा की आप क्या लिख रहे है और पड़ने वाले को भी लगेगा की हा अगर में ये पड़ रहा हु तो अपना समय और इंटरनेट डेटा बर्बाद नहीं कर रहा हु.
तो कहने का मतलब है की आप अपनी पोस्ट को और विषय को यूजर के सामने बिलकुल साफ शब्दों में रखे, क्युकी इस व्यस्त माहौल में शायद ही किसी के पास टाइम होगा साडी कहानी पड़ने का.  काम शब्दों में ज्यादा से ज्यादा ज्ञान को शेयर करे ताकि जो पड़ रहा है उसे सीधी सीधी मदद मिल सके. वैसे ब्लॉग बनाने के लिए सबके अपने अपने मायने होते है, कोई सबकी मदद करना चाहता है अपनी नॉलेज को शेयर करके, कोई अपने प्रोडक्ट या सर्विसेज की जानकारी देता है, कोई अपने बारे में लिखना चाहता है आदि आदि .
अगर आपको अपने ब्लॉग पर कोई ऐसा विषय लग रहा है जिसे उसेर्स बहुत काम पसंद कर रहे है ऐसे विषय या पोस्ट्स को डिलीट कर देना चाहिए.

अपने ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुचाये ( Internet Content Sharing) :
अगर आपको लगता है की आपके द्वारा लिखी गयी पोस्ट को users द्वारा पसंद किया जा रहा है तो उसे ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुचाये..[क्युकी पड़ेगा इंडिया तभी तो बढ़ेगा इंडिया :-) ] अपने ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुचने के बहुत सारे तरीके है जैसे की फेसबुक, ट्विटर और अलग अलग सोशल साइट्स  पर दोस्तों के साथ शेयर करना और उनसे कहना की वो आगे भी शेयर करे. और सच्चे users का भी कर्त्तव्य बनता है की उसे फ्री में जो भी मदद मिल रही है, जिस ब्लॉग से मिल रहे है वो खुद शेयर करे. जैसा की अलग अलग देशो के लोग करते है. भारत में तो थैंक यू भी बिना मुस्कराये बोलते है. तो अपनी सोच बदलो और अपने दोस्तों की सोच बदलो. मन में ये होना चाहिए की में तो आगे बढूंगा की ही इसकी मदद से, तो बदले में कुछ इसकी भी मदद हो जाये. जिसे इंग्लिश में credit लेना या देना कहते है .

ब्लॉग डिज़ाइन सटीक रखे ( User Friendly blog Design) :
ब्लॉग का डिज़ाइन साधारण के साथ साथ आकर्षक होना चाहिए : आपको इससे ज्यादा भ्रमित होने की जरुरत नहीं है, साधारण का मतलब, आपके ब्लॉग को हर तरह की मोबाइल, टेबलेट, लैपटॉप एंड कंप्यूटर से खोला जा सके. कही पर भी ऐसा न लगे की ब्लॉग को पड़ने में समस्या हो रही हो. बहुत सी वेब्सीटेस ऐसी है जो मुख्या वेबसाइट खुलने से पहले बहुत सारे Advertisements खुल जाते है . तो वो उसेर्स को पसंद नहीं आता. उसेर्स आपके अद्वेर्तिसेमेंट को तभी क्लिक करे जब Advertisements उसके मतलब का हो. जबरदस्ती करना गलत बात हो जाती है और अगली बार वो आपकी वेबसाइट पर जाने से पहले सोच में पड़ सकता है. या बिना पड़े बंद कर सकता है.

सोशल मीडिया मार्केटिंग (Social Media Marketing):
आपको कुछ ज्यादा नहीं करना है आपको बस ये पता करना है की ऐसी कौन कौन सी Social वेबसाइट है जहा पर लोग ज्यादा एक्टिव रहते है. जैसे की "फेसबुक" या "ट्विटर" यहाँ पर आप अपनी पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करके लोगो तक अपना ब्लॉग पोस्ट पहुंचा सकते हो, अगर आपका लिखी हुयी सूचना अगर काम की है तो लोग जरूर देखेंगे . तो लो आ गए Visitors..

ईमेल सब्सक्रिप्शन (RSS Feed):
RSS Feed का नाम तो आप पहचानते होंगे अगर नहीं जानते तो इंटरनेट पर खोजो. और पता करो की आपके ब्लॉग का RSS Feed URL क्या है .
ऐसे बहुत सारे लोग है जो किसी ब्लॉग, न्यूज़ या सूचना को आरएसएस रीडर की मदद से पड़ते है. ये कैसे काम करता है इसके लिए में आपको एक उदहारण के जरिये समझाता हु. मान लो आप हर दिन डी.टी.एच. से सम्बंधित खबरे पड़ना चाहते है. और इस टॉपिक से रिलेटेड आप बहुत सारी वेब साइट्स  के नाम भी जानते होंगे. पर सबको हर रोज़ खोल करके देखना अपने आप में समय की बर्बादी होती है. उसके लिए में RSS Reader का उपयोग करना जरुरी समझूंगा. आप जिन जिन वेबसाइट के नाम जानते है उसके लिए आप उस ब्लॉग का RSS Subscribe करेंगे.

इसके बाद आपको बस रोज़ रोज़ RSS Reader ही खोलना पड़ेगा. उसमे आपकी दी हुयी ब्लॉग्स की लिस्ट होगी और उनकी ताज़ा न्यूज़ भी. तो अब समझ गए होंगे की RSS Subscription services कितना जरुरी है. अब आपको क्या करना है. ऐसी RSS Directories की खोज करना है लिस्ट बनानी है और उसमे अपने ब्लॉग को रजिस्टर करना होंगे . हर रोज़ आपको नए नए visitors मिलेंगे .
मेने यहाँ पर RSS Feeds Directories की लिस्ट बनाने की कोशिश की है, आप चाहे तो यहाँ से शुरू कर सकते है.

                                                                                                              TO BE CONTINUED.....























Tags: increase blog traffic, get blog traffic, increase blog traffic google, increase blog traffic software, increase blog traffic 2015, how to increase blog traffic on blogger how to increase blog traffic fast, how to increase blog traffic wordpress, increase blog traffic free


Share this:

1 comment :

  1. धन्यवाद भाई आपको इतनी अच्छी जानकारी देने के लिए |
    http://achhiinformation.blogspot.com/

    ReplyDelete

I am waiting for your suggestion / feedbacks, will reply you within 24-48 hours. :-)

Thanks for visit my Blog

 
Back To Top
Copyright © 2014 PradeepTomar : Inspire the bloggers. Designed by OddThemes