Welcome back to My Blog Pradeeptomar.com : Advantages of Blogging
Advertisements
Advertisements

How to earn money from share market - जाने शेयर मार्किट को भी ??

कुछ समझे शेयर मार्किट को भी ... एक नज़र में 

जिस तरह से शेयर बाजार में पैसा बनाना बहुत आसान है उसी प्रकार शेयर बाजार में पैसा खोना भी बहुत आसान है। पर अगर आप ज्यादा से ज्यादा कामना चाहते है तो आपको सही और ज्यादा शेयर मार्किट की नॉलेज होनी चाहिए.

कोई कितना भी आपको भरोसा दे की वो एक्सपर्ट है आपको फ़ोन पर सलाह देगा फिर भी कूदने से पहले इसके बारे में अधिक से अधिक जानकारी ले लेना बहुत आवश्यक है। इसके लिए कोई डिग्री या योग्यता की जरुरत नहीं है. बस अपने आप को शार्प रखना है.

सबका पता नहीं पर मेने खुद महसूस किया है की जो हमारे एक्सपर्ट होते है, जो की सब ब्रोकर या ब्रोकर होते है जहा आपका शेयर मार्केटिंग का अकाउंट होता है. ये चाहते हैं कि हम ज्यादा से ज्यादा ट्रेड करते रहें ताकि हर सौदे के ब्रोकरेज़ से उनका धंधा बढ़ता रहे। उनका स्वार्थ हमें लाभ कराने में नहीं, बल्कि अपने धंधे को बढ़ाने में है।

हम लोग किसी भी प्रोफेशनल पढ़ाई में चार-पांच साल लगाते है लेकिन शेयर मार्किट की ट्रेडिंग को हम लोग दाएं हाथ का खेल समझते हैं, जबकि यह एक साथ साइंस और कला दोनों ही है। इसमें इसके विज्ञान को समझने के साथ ही कला में भी महारत हासिल करनी पड़ती है जिसके लिए काफी अभ्यास की ज़रूरत पड़ती है। खैर, आपने किसी भी कंपनी या शेयर में कितना भी इन्वेस्ट किया हो या करने जा रहे हो  उसमे आपको ये जानना जरुरी है की आप कम से कम कितना कमा रहे है.मतलब जिस पैसे का इन्वेस्टमेंट किया है उसका रिटर्न कितना है, हमें रिस्क व रिवॉर्ड के आधार पर एक सौदे में 2% से ज्यादा नुकसान कभी नहीं उठाना चाहिए। अगर उससे ज्यादा नुकसान में रखने की आपको अगर सलाह दी जा रही है STOP LOSS के जरिये जैसे 5-8% का STOP LOSS . तो समझो आप फसने की कोशिश कर रहे है.
how to earn money from share market in hindi

वैसे देखा जाये शेयर मार्किट एक बहुत बड़े सिस्टम एंड अनुशाशन के तहत काम करता है, पर फिर भी यहाँ रिस्क का खतरा हमेशा छाया रहता है कोई भी बीमा कंपनी या इन्वेस्टमेंट कंपनी गारंटी नहीं लेती. यह जोखिम संभालने के लिए पोजिशन साइजिंग और स्टॉप-लॉस का सहारा लिया जाता है ताकि हमारी ट्रेडिंग पूंजी को आंच न आए। वैसे पता नहीं क्यों मुझे ऐसा लगता है की जो लोग ट्रेडिंग करते है जो इसके उस्ताद हैं, वो अपना हुनर किसी को बताते नहीं.

खैर छोडो ... :-)

शेयर होता क्या है ?
सबसे पहले तो आपको जानना चाहिए की शेयर होता क्या है, शेयर मतलब हिंदी में हिस्सेदारी. अगर आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते है तो समझो आप उतनी ही हिस्सेदारी ले रहे है.  आप अगर किसी कंपनी में अपनी हिस्सेदारी रखना चाहते है तो समझो आप भी उस कंपनी के मालिक की तरह नुकसान और फायदा उठाना पड़ता है सभी कंपनियों के शेयर का मूल्य उनकी लाभदायक क्षमता के अनुसार कम-ज्यादा होता है। इस पूरे बाजार में नियंत्रण भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) का होता है। इसकी अनुमति के बाद ही कोई कंपनी अपना प्रारंभिक निर्गम इश्यू initial public offering (IPO) जारी कर सकती है। प्रत्येक छमाही या वार्षिक आधार पर कंपनियां लाभ होने पर अपने हिस्सेदारों को लाभ भी देती हैं।  जब कंपनी बाजार में अपने आईपीओ उतरती है तो उसे बाजार के साथ लिखित समझोता करना होता है जिसके अनुशार कंपनी ऐसी जानकारी जरूर अपने हिस्सेधारको को बताएगी जो उसके हिस्सेदारी को प्रभावित करते हो. या फायदे या नुकसान से सम्बंधित हो. 

समयचक्र :
सबसे पहले मार्किट में उतार चढ़ाव का ग्राफ बड़े ध्यान से देखे और सोचे..की आज देश की क्या परिस्थितिया है अगर मार्किट पहले से ग्रोथ में चल रही है तो सोचो आने वाले दिनों में मार्किट को क्या फायदा हो सकता है या क्या नुकसान हो सकता है. जैसे कोई बड़ी डील या किसी कंपनी का बड़ा नुकसान, कोई कंपनी को अगर नुकसान होता है तो उसका कुछ न कुछ प्रभाव मार्किट पर भी पड़ता वो चाहे आपको दिखे या न दिखे. अब आप पूछोगे की ये पता कैसे चलेगा तो यार बस यही समय तो होता है रावण बनने का मतलब १० सर का दिमाग चलाने का. इंटरनेट पर सर्च करो, देखो की क्या नयी योजनाये निकल रही है और वो कितना सफल हो रही है.


To Be Continued ...








Most Searches:
how to earn money in share market without investment,
how to earn money in share market,
how to earn money in share market daily,
earn money from home with stock market,
knowledge of share market in hindi,
share market in hindi pdf,
share market tips in hindi,
basic knowledge of share market in hindi,

Share this:

Post a Comment

I am waiting for your suggestion / feedbacks, will reply you within 24-48 hours. :-)

Thanks for visit my Blog

 
Back To Top
Copyright © 2014 PradeepTomar : Inspire the bloggers. Designed by OddThemes