Sponsored Links

Follow by Email

Sponsored Links

Guest Post क्या है इसके फायदे एवं नुकसान - इन्टरनेट मार्केटिंग

What are the advantages and disadvantages of Guest Post - Internet Marketing

नमस्कार दोस्तों !! आज बात करते है Guest Post के बारे में और जानते है की कैसे Guest Post एक ब्लॉगर के लिए, एक ब्रांड या नयी वेबसाइट के लिए और कैसे एक विजिटर के लिए लाभ का काम करती है. आप कोई भी न्यूज़ पेपर उठा कर देख लो उसमे हर रोज़ कोई न कोई ऐसा टॉपिक जरुर होता है जिसमे वो न्यूज़ पेपर जानकारी के साथ साथ किसी ब्रांड के प्रोडक्ट या सर्विसेज को खरीदने के लिए प्रेरित करता है. कुछ नहीं तो जिसने भी वो टॉपिक लिखा है उसका नाम और कांटेक्ट जानकारी लिखी होगी. मतलब वो व्यक्ति अपने आप को प्रमोट करना चाहता है. आदि आदि .
 What are the advantages and disadvantages of Guest Post - Internet Marketing


सबसे पहले जानते है उनके लिए फायदे जो नए ब्लॉगर है, या वो मार्किट में नया ब्रांड है, या उनकी कोई नयी वेबसाइट या ब्लॉग है:

मान लीजिये आप की नयी वेबसाइट है या ब्लॉग है तो उस वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा लोग कैसे पहुंचाए क्युकी ये बात सभी को पता है की इन्टरनेट पर ज्यादातर जानकारी (मान लो 99%) फ्री में मिलती है, बस इन्टरनेट पर कुछ धंधा होता है तो वो कोई प्रोडक्ट या कोई सर्विसेज का. जिसे आप जानकारी देने के साथ साथ विजिटर को बताते है की कैसे ये उसके लिए useful हो सकता है फिर ये उसकी मर्ज़ी है की वो उसे ख़रीदे या नहीं. आपने ईमानदारी से अपना काम कर दिया की आपने जानकारी के साथ साथ अपने प्रोडक्ट या सर्विसेज के बारे में विजिटर को बता दिया. क्युकी किसी भी जानकारी को कितने लोगो तक पहुचाया या कितने लोगो तक कैसे पहुचना है ये आपका काम है. जिसमे Guest Posting आपके लिए प्रमुखता से काम करती है.

तो कैसे चुने Guest Post का टॉपिक? :
Guest Post का टॉपिक हमेशा आपसे (आपकी सर्विसेज या प्रोडक्ट) से सम्बंधित ही होगा, क्युकी उसके बारे में आपका ज्यादा से ज्यादा जानकारी है. मान लो आपका Education से सम्बंधित ब्लॉग या वेबसाइट है तो आप Education (शिक्षा) से सम्बंधित ही Guest Post लिखेंगे. जो भी टॉपिक चुने वो विजिटर (पढ़ने वाले) के हर प्रश्न का जवाव होना चाहिए. आप चाहे तो उन प्रश्नों के छोटे छोटे शीर्षक (headline) बना कर लिख सकते है. जिससे की पढने वाले को आपकी बात समझ आ जाये और उसके मन में उस टॉपिक से सम्बंधित कम से कम प्रश्न रह जाये.

आवश्यक निर्देश : Guest Post में दी गयी जानकारी आपकी अपनी ख़ोज पर आधारित होनी चाहिए. न किसी और की मेहनत को नक़ल करके लिखे. क्युकी इससे आपकी Guest Post रिजेक्ट हो सकती है और आपकी मेहनत बेकार जा सकती है. नक़ल किया गया डाटा ज्यादातर सर्च engine (Google, Yahoo, Bing ) आदि को पता चल जाता है और उस पोस्ट को उनके द्वारा बैन किया जा सकता है. मतलब Google में सर्च नहीं होगा.


Guest Post को किस तरह की वेबसाइट या ब्लॉग पर प्रकाशित करना चाहिए? :
यहाँ ऊपर जो मैंने उदहारण दिया है वो ये मानकर दिया है की आपके पास जो भी ब्लॉग वेबसाइट, ब्लॉग या सर्विसेज है. तो सीधी सी बात है की आपने जो Guest Post लिखी होगी वो इसी से सम्बंधित ही होगी. अब उस Guest Post को उसी से सम्बंधित वेबसाइट पर पब्लिश करे क्युकी आपको अपने मतलब के विजिटरस को टारगेट करना है. इससे आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक मतलब विजिटरस की संख्या बढेगी और उनमे से कुछ आपकी सर्विस या प्रोडक्ट में रूचि में दिखायेगे.


Guest Post का फायदा उनके लिए जो पहले से ही ब्लॉग चला रहे है:
आप अगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर Guest Post का आप्शन रखते है तो आपको हर रोज़ नया नया कंटेंट मिलेगा, और आपके वेबसाइट या ब्लॉग पर पहले से ज्यादा इनफार्मेशन या जानकारी उपलव्ध होगी. पर ध्यान रहे आपको वही Guest Post पब्लिश करनी है जो आपकी शर्तो पर खरी उतरती हो. वो शर्ते आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट ही हिसाब से बनानी होगी. मतलब आप किन किन टॉपिक्स को पब्लिश करते है. पोस्ट कितनी बड़ी और कैसी होनी चाहिए आदि आदि.

विजिटरस का Guest Post से फायदा:
ऑनलाइन विजिटरस का एक ही फायदा है की उसे आपके ब्लॉग से ज्यादा से ज्यादा जानकारी उसी टॉपिक से सम्बंधित आसानी से मिल जाती है, और अगर उसे कोई प्रोडक्ट या सर्विसेज चाहिए तो उसे उदहारण या आप्शन मिल जाते है, वजाय यहाँ वहां ख़ोज करने के.


Guest Post से होने वाली कुछ समस्याएं :
Guest Post से आपको समस्या हो सकती है अगर प्रकाशित पोस्ट पर जानकारी अधूरी है, जानकारी कही से कॉपी की गयी है, जानकारी आपके ब्लॉग से भिन्न है. क्युकी वो विजिटर को कंफ्यूज या भ्रमित करती है और वो आपकी ब्लॉग या वेबसाइट को बंद कर देंगा.
Guest Post में एक से ज्यादा back-link नहीं होने चाहिए, ये वो लिनक्स (URLs) sponosored नहीं होने चाहिए. कुछ लोग थर्ड पार्टी के link डाल देते है थोड़ी सी कमाई के लिए, और जैसे ही आपका विजिटर क्लिक करता है वो advertisements से भरी हुयी webpage पर पहुच जाता है. जिससे विजिटर irritate हो जाता है. और अगली बार आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर आने से पहले सोचेगा या डरेगा.

अगर आप भी अपना कोई पोस्ट जो की आपकी वेबसाइट, ब्लॉग, प्रोडक्ट या सर्विस से सम्बंधित हो तो जरुर हमें भेजे - शर्तो व् जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे.

अगर आपको ये लेख आपको सहायक लगता है तो अवश्य अपने मित्रो एवं सही संबंधियों के साथ फेसबुक या ट्विटर पर शेयर करे. मन में किसी भी तरह का प्रश्न होने पर अवस्य प्रश्न करे. हम आपके उत्तर को इस लेख में शामिल करेगे या कमेंट बॉक्स में ही उत्तर दे देंगे. धन्यवाद.



Tags : guest posts wanted, submit a guest post, what is guest posting in seo, how to do guest posting, guest blog post examples, guest blogging meaning, guest post guidelines, submit a guest blog post,

Share this:

Post a Comment

I am waiting for your suggestion / feedbacks, will reply you within 24-48 hours. :-)

Thanks for visit my Blog

Sponsored Links
 
Back To Top
Copyright © 2014 PradeepTomar : Mobile USSD Codes, Bank Balance Check Number.

Privacy Policy | Disclaimer | Terms of Service | Sitemap | Copyright Policy |