Welcome back to My Blog Pradeeptomar.com : Advantages of Blogging
Advertisements
Advertisements

बेटी के लिए खुलवाएं "सुकन्या समृद्धि खाता" Sukanya Samridhi Yojana Scheme Benefits

बेटी के लिए ऎसे खुलवाएं "सुकन्या समृद्धि खाता", मिलेंगे ये फायदे

Sukanya Samridhi Yojana: Scheme Benefits, How and Who can Apply for Open Account

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत सुकन्या समृद्धि योजना को लांच किया। यह योजना बेटियों की पढ़ाई और उनकी शादी पर आने वाले खर्च को आसानी से पूरा करने के उद्देश्य से लांच की गई है। बेटी को बोझ ना समझें और ना ही उसके जन्म पर निराश हों, क्योंकि बिना बेटी के परिवार नाम की संस्था का अस्तित्व ही खतरे में पड़ जाएगा।
Image Source: Patrika

"सुकन्या समृद्धि खाता" किसी भी डाकघर अथवा अधिकृत बैंक शाखा में खुलवाया जा सकता है। बेटी के जन्म के समय या फिर 10 साल की उम्र तक यह खाता खुलवाया जा सकता है। खाता खुलवाने के समय कम से कम 1000 रूपए और एक वित्त वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रूपए जमा करवाने होते हैं। अगर आपकी बेटी ने योजना शुरू होने के एक साल पहले भी 10 वर्ष की आयु प्राप्त कर ली हो, तो ऎसी बेटियों के खाते भी खुलवाए जा सकते हैं। हालांकि एक बेटी के नाम से एक ही खाता खोला जा सकता है।

The lists of bank which may be authorized to open account are:
  • SBI (State Bank of India)
  • SBI Subsidiaries (Patiala, Bikaner & Jaipur, Travancore, Hyderabad, Mysore)
  • ICICI (PPF Account ICICI Bank)
  • BOB – Bank of Baroda
  • Central Bank of India
  • BOI – Bank of India
  • Union Bank of India
  • IDBI
  • Vijaya Bank
  • Allahadbad Bank
  • Oriental Bank of Commerce
  • Bank of Maharasntra
  • Canara Bank
  • Central Bank of India
  • Corporation Bank
  • Dena Bank
  • Indian Bank
  • IOB – Indian Overseas Bank
  • PNB – Punjab National Bank
  • United Bank of India
  • IDBI Bank
  • Axis Bank
परिवार में अगर दो बालिकाएं हैं, तो दोनों के लिए यह खाता खोला जा सकता है। एक परिवार में दोे से अधिक बालिकाओं का खाता इस योजना में नहीं जुड़वाया जा सकता है। हालांकि जुड़वां बच्चे होने की स्थिति में संबंधित प्रमाण-पत्र प्रस्तुत कर तीसरा खाता भी खुलवाया जा सकता है। बेटी के 10 वर्ष की आयु पूर्ण करने से पहले खाते का संचालन अभिभावक ही करेंगे, लेकिन इसके पश्चात स्वयं खाताधारक बालिका भी खाते का संचालन अपने हाथ में ले सकेगी। इस खाते को देशभर में कहीं भी स्थानांतरित करवाया जा सकता है।

आपको इस खाते में न्यूनतम राशि खाता खोलने की तिथि से 14 वर्ष तक जमा करानी होगी। अगर खाते में न्यूनतम राशि जमा नहीं करवाई गई, तो न्यूनतम राशि सहित 50 रूपए पैनल्टी स्वरूप वसूल किए जाएंगे। खाता 21 वर्ष पूरे होने के बाद ही परिपक्व होगा।

बेटी की उम्र 18 वर्ष होने पर आप जमा राशि का 50 प्रतिशत बेटी की शिक्षा अथवा शादी के लिए निकलवा सकते हैं। ऎसा इसलिए किया गया है कि अभिभावक बेटी की शादी 18 साल से पहले ना करें। खाते में जमा सम्पूर्ण राशि और ब्याज की रकम को खाते के 21 साल होने पर निकाली जा सकती है। हालांकि बेटी का विवाह 21 साल की अवधि पूरी होने से पहले हो जाता है, तो विवाह की तारीख के पश्चात खाते के संचालन की अनुमति नहीं दी जाएगी। वहीं दूसरी ओर 21 साल से पहले बेटी की मृत्युकी दशा में, खाता बंद हो जाएगी और जमा राशि और ब्याज निकलवाया जा सकता है।

Documents to open account :
To open this account following documents are required to be submitted.
  • Birth Certificate of Girl Child
  • Identity proof of the depositor i.e. parent or legal guardian
  • Address proof of the depositor i.e. parent or legal guardian
सुकन्या समृद्धि योजना इसलिए महत्वपूर्ण है कि इसमें सरकार ने बेहतरीन ब्याज दर की घोषणा की है। 
फायदा नंबर 1 - इस योजना में 9.1 प्रतिशत की ब्याज दर दी जाएगी।
फायदा नंबर 2 - योजना की राशि पर आयकर नहीं काटा जाएगा।
फायदा नंबर 3 - बेटी के पढ़ाई के खर्च की हो जाएगी व्यवस्था।
फायदा नंबर 4 - विवाह योग्य होने पर विवाह खर्च की भी नहीं रहेगी चिंता।
फायदा नंबर 5 - सबसे कम लेट फीस।
.
Image provided by one of reader
Source: Patrika

Share this:

1 comment :

I am waiting for your suggestion / feedbacks, will reply you within 24-48 hours. :-)

Thanks for visit my Blog

 
Back To Top
Copyright © 2014 PradeepTomar : Inspire the bloggers. Designed by OddThemes